Atm Full form in Hindi

Spread the love

Atm full form in hindi

Atm full form in Hindi

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में ATM किसी वरदान से कम नहीं है यह हमारी जीवन को बहुत आसान बना देता है। और किसी भी प्रकार की आवश्यकता पड़ने पर हम ATM से पैसे निकालकर अपना काम कर लेते है। लेकिन क्या आपको पता है कि ATM क्या होता है और किस तरह से काम करता है ? तो चलिए हम जानते है कि ATM क्या होता है ?

ATM क्या होता है

यह एक इलेक्ट्रो Machanical मशीन है जो किसी बैंक खाते से Financial Transactions के लिए प्रयोग किया जाता है। यह मशीने व्यक्तिगत बैंक खाते से पैसे निकालने के काम आता है। ATM बैंकिंग को बहुत सरल और आसान बना देता है क्यूंकि न इसमें व्यक्ति विशेष की आवश्यकता होती है और न ही किसी केशियर की आवश्यकता होती है।

जरूर पढ़े : RTGS Full Form In Hindi

ATM का Full Form

ATM का Full Form “Automated teller machine” होता है। कनाडा में इसे ABM (Automated Banking Machine ) तथा कई English देशों में Cash Machine, Cashpoint और Hole in the wall भी कहते है।

Atm कैसे काम करता है

Atm के कार्य को समझने को लिए आपको Atm Card को Atm मशीन में डालना होगा। कुछ मशीने कार्ड Swap करने का और कुछ Drop करने का विकल्प देती है। इसके बाद Atm आपसे पिन नंबर पूछेगा जिसे डालने के बाद एटीएम आपके व्यक्तिगत डाटा , बैंक की जानकारी को प्राप्त कर लेता है। उसके बाद आपके आवश्यकता अनुसार वह आपका काम पूरा कर देता है।

Atm के प्रमुख कार्य

वैसे तो ATM के बहुत सारे कार्य है जिसमे से प्रमुख कार्य इस प्रकार है –

  • कैश और चेक जमा
  • फण्ड ट्रांसफर
  • कैश निकालना और खाता जानकारी
  • पिन बदलाव और मिनी स्टेटेमेंट
  • बिल भुगतान और मोबाइल रिचार्ज .

ATM के प्रकार

कुछ सालो में भारत में Atm का प्रयोग काफी तेजी से बढ़ा है। बड़े शहरो और बिजी जीवन में लोग बैंक जाने की बजाय Atm को ज्यादा प्राथमिकता देते है।लेकिन क्या आप जानते है कि Atm कितने तरह के होते है ?
चलिए हम जानते है कि Atm कितने प्रकार के होते है –

  1. White label Atm – यह Atm किसी Non Profit संस्था द्वारा स्वामित्व होता है। लेकिन इसका किसी विशेष बैंक से Outsource contract नहीं होता है।
  2. Brown label Atm – यह Atm किसी Third Party को Bank द्वारा Outsource किया जाता है।
  3. Green label Atm – यह Atm , Agricultural transactions के लिए प्रयोग किया जाता है।
  4. Orange label Atm – इस Atm को साझा Transactions के लिए प्रयोग किया जाता है।
  5. Yellow label Atm – इस प्रकार के Atm को E- Commerce के लिए उपयोग किया जाता है।
  6. Pink label Atm – यह Atm विशेषकर महिलाओ की सुरक्षा को आधार मानकर प्रयोग किया जाता है।
  7. Biometric Atm – यह Atm , Security features के लिए प्रयोग किया जाता है और इसे किसी Customer की Bank details लेने के लिए प्रयोग किया जाता है।

कुछ रोचक तथ्य

  • Atm के अविष्कारक – John shepherd Barron .
  • Atm pin number – John shepherd ने शुरुआत में Atm pin को 6 अंको का रखा था। परन्तु उनकी बीवी को 6 अंको का पिन याद रखने में बहुत परेशानी होती थी। इसलिए उन्होंने बाद में इसे चार अंको का कर दिया।
  • विश्व का पहला Atm – इसे 1987 में HSBC (Hong Kong and Shanghai Bank Corporation )द्वारा लगाया गया था।
  • विश्व में पहला Atm – यह 27 june 1967 को Barclays Bank द्वारा लगाया गया था।
  • Atm प्रयोग करने वाला पहला इंसान – Atm प्रयोग करने वाले पहले इंसान मशहूर कॉमेडी अभिनेता Reg Varney है जिन्होंने Atm को कुछ पैसे निकालने के लिए प्रयोग किया था।
  • बिना खाते के Atm – रोमानिया (यूरोपियन देश ) जहाँ पर आप बिना बैंक खाते के पैसे निकाल सकते है।
  • विश्व का सबसे ऊँचा Atm – यह Nathu La में स्थापित है जो कि विशेषकर आर्मी के लिए है और इसकी ऊंचाई समून्द्र तल से 14300 फिट है जिसे यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया द्वारा चलाया जाता है।

निष्कर्ष

हम उंम्मीद करते है कि आपको हमारा आर्टिकल Atm full form in Hindi पसंद आया होगा यदि आपको ऐसे आर्टिकल पढ़ना पसंद है तो आप हमें suscribe भी कर सकते है। और हमारे ब्लॉग को अपने फ्रेंड्स और relatives को भी शेयर कर सकते है। धन्यवाद I

1 thought on “Atm Full form in Hindi”

  1. Pingback: Google ka full form - All About Google - MY SOCIAL SKILL

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »